सितम्बर 20, 2017

टाटा स्टील व थाएसेनक्रुप ने अग्रणी यूरोपीय स्टील इंटरप्राइस के निर्माण के लिए एमओयू पर हस्ताक्षर किए

मुंबई: टाटा स्टील लिमिटेड और थाएसनक्रुप एजी ने यूरोप में दोनो कंपनियों के फ्लैट स्टील व्यापारों और थाएसनक्रुप समूह के स्टील मिल सर्विसेस को मिलाकर एक अग्रणी यूरोपीय स्टील इंटरप्राइज बनाने के लिए मेंमोरेंडम ऑफ अंडरस्टैंडिंग (एमओयू) पर हस्ताक्षर किया है। यह प्रस्तावित 50:50 संयुक्त उपक्रम – थाएसनक्रुप टाटा स्टील – गुणवत्ता और प्रौद्योगिकी लीडरशिप और प्रीमियम व विभेदित उत्पादों का ग्राहकों को सप्लाई के साथ 21 मिलियन टन फ्लैट स्टील उत्पादों के शिपमेन्ट पर फोकस करेगा।

इस संयुक्त उपक्रम में लगभग €15 बिलियन प्रति वर्ष (रु.115,000 करोड़) के प्रो फार्मा टर्नओवर होगा और वर्तमान में ये विभिन्न स्थानों पर लगभग 48,000 लोगों को रोजगार देगा। इसका मुख्यालय ऐम्स्टरडैम, नीदरलैंड में होगा। व्यावसायों के इस प्रस्तावित संयोजन को गैर-नगद लेनदेन फ्रेमवर्क के माध्यम से बनाया जाएगा, जो उचित मूल्यांकन परआधारित होगा, जहां पर दोनो शेयरधारक डेब्ट व देयताओं का योगदान करके इस उद्यम में समान शेयरहोल्डिंग हासिल करेंगे।

थाएसनक्रुप टाटा स्टील के पास मजबूत पूंजी संरचना होगी जो इस कंपनी के निहित नगदी प्रवाह को मैच करेगी। यह यूरोपीय स्टील उद्योग में गुणवत्ता, प्रौद्योगिकी और लागत लीडरशिप हासिल करने के लिए संयुक्त एसेट्स के स्तर व वितरण नेटवर्क क्षमता से लाभ प्राप्तच करेगी। प्रस्तावित संयुक्त उद्यम कंपनी में सभी अपट्रीम हब्स में दोनो साझीदारों का दीर्घकालीन निवेशक बने रहने और सभी वर्तमान नेटवर्क कॉन्फिगरेशन को जारी रखने का स्पष्ट इरादा है।

इस एमओयू पर बोलते हुए एन चंद्रशेखरन, चेयरमैन, टाटा स्टील ने कहा, “टाटा समूह तथा थाएसनक्रुप के पास वैश्विक स्टील उद्योग में मजबूत विरासत है और ये दोनो समान संस्कृति और मूल्यों को साझा करते हैं। दोनो साझीदारों के लिए यह साझीदारी एक यादगार पल है जो मजबूत यूरोपीय स्टील इंटरप्राइस के निर्माण पर फोकस कर रहे हैं। यूरोप में इस प्रस्तावित संयुक्त उपक्रम का रणनीतिक तर्क बेहद मजबूत बुनियादी तत्वों पर आधारित है और मुझे विश्वास है कि थाएसनक्रुप टाटा स्टील का भविष्य महान होगा।”

“थाएसनक्रुप और टाटा स्टील मिलकर इस नियोजित संयुक्त उपक्रम के निर्माण से अपनी संबंधित यूरोपीय स्टील गतिविधियों के लिए टिकाऊ भविष्य का निर्माण कर रहे हैं। यह व्यापार संयोजन एक मजबूत नंबर 2 का निर्माण करता है और इस तरह से यूरोपीय स्टील उद्योग में संरचनात्मक बदलावों का सामना करने के लिए बेहतर रूप से अवस्थित होता है। टाटा स्टील के साथ हमें एक बेहद अच्छी रणनीतिक व संस्कृतिक फिट वाला साझीदार मिला है। स्पष्ट प्रदर्शन ओरिएंटेशन से आगे, हम कर्मचारियों व समाज के प्रति कारपोरेट उत्तरदायित्व के समान फलसफे को भी साझा करते हैं”, डॉ हेनरिक हेसिंगर, चेयरमैन, एक्जीक्यूटिव बोर्ड थाएसनक्रुप।

श्री चंद्रशेखरन ने जोड़ा, “यूरोप में थाएसनक्रुप के साथ हमारी साझीदारी की प्रगति के साथ, उभरती ग्राहक जरूरतों को पूरा करने के लिए मूल्य वर्धित उत्पादों में महत्वपूर्ण क्षमता जोड़ कर टाटा स्टील भारत की बढ़ती अर्थव्यवस्था का लाभ लेने के लिए तैयार है। भारत में ऑर्गैनिक व इनऑर्गैनिक प्रगति अवसरों के माध्यम से क्षमता विस्तार के लिए टाटा स्टील की रणनीति को टाटा संस वित्तीय रूप से समर्थन देना जारी रखेगा।”

कौशिक चटर्जी, समूह कार्यकारी निदेशक, टाटा स्टील ने कहा,“यूरोपीय पोर्टफोलियो रणनीति को व्यापक करने के संबंध में थाएसनक्रुप के साथ इस एमओयू के हस्ताक्षर टाटा स्टील समूह के लिए एक महत्वपूर्ण उपलब्धि है। हमारे आरंभिक मूल्यांकन के आधार पर, €400 से €600 मिलियन प्रति वर्ष की रेंज में लागत सिनेर्जी को कॉमर्शियल फंक्शन, आर&डी और दूसरी समर्थित गतिविधियों के एकीकरण के माध्यम से हासिल किया जाएगा। दोनो शेयरधारकों ने यह सुनिश्चित करने का ध्यान रखा है कि संयुक्त उपक्रम की बैलेंस शीट को टिकाऊ व्यवसाय को आगे बढ़ाना सुनिश्चित करने के लिए संरचित किया जाएगा। यूरोप में प्रस्तावित यह लेनदेन टाटा स्टील समूह की समेकित बैलेंस शीट के लिए महत्वपूर्ण डी-लिवरेजिंग के लिए मार्ग खोलेगा और भविष्य की वृद्धि को बढ़ाने के लिए टाटा स्टील के लिए प्लेटफार्म प्रदान करेगा।”

इस संयोजन के माध्यम से दोनो कंपनियां महत्वपूर्ण सिनर्जी का लाभ उठाएंगी। शुरुआती सालों में ये सिनर्जियां प्राथमिक रूप से बिक्री व प्रशासन, शोध व विकास के एकीकरण, अधिप्राप्ति, लॉजिस्टिक्स तथा सर्विस सेंटरों के संयुक्त इष्टमीकरण को चलाएंगी। इसके साथ ही थाएसनक्रुप टाटा स्टील, इजमुइडेन (नीदरलैंड), ड्यूसवर्ग (जर्मनी) और पोर्ट टैल्बोट (वेल्स, यूके) की तीन हब्स और उनसे संबंधित डाउनस्ट्रीम सुविधाओं के नेटवर्कों की क्षमता के उपयोग को बंहतर करने का प्रयास करेगी।

यह प्रक्रिया उचित लगन और अनुबंध के निश्चित विवरणों पर नेगोसिएशंस के साथ अब लेनदेन के अगले चरण में जाएगी। यह संयोजन अंतिम अनुबंधों के निष्पादन और बोर्ड व टाटा स्टील शेयरधारकों के अनुमोदनों सहित समस्त कारपोरेट अनुज्ञाओं को हासिल करने से विषयित है। जरूरी प्रतिस्पर्धी अनुमोदनों को हासिल करने सहित, कुछ क्लोजिंग शर्तों पर पूर्णता निर्भर करेगी।